NET Exam Kya Hota Hai? UGC नेट एग्जाम पास करने के बाद क्या करें?

शिक्षा के क्षेत्र में प्रोफेसर काफी अच्छा करियर विकल्प है. कॉलेज में शिक्षण का कार्य प्रोफेसर के द्वारा होता है. इस प्रोफेशन में नेट परीक्षा के द्वारा प्रवेश मिलता है. अगर आप कॉलेज प्रोफेसर करियर में रूचि रखते हैं और प्रोफेसर बनना चाहते हैं, तो आपको नेट एग्जाम एग्जाम उत्तीर्ण करना होगा. आज हम आपसे इसी के बारे में बात करेंगे कि NET Exam Kya Hota Hai? नेट एग्जाम के लिए योग्यता क्या होना चाहिए.

नेट राष्ट्रीय स्तर का पात्रता परीक्षा है. इस एग्जाम के द्वारा कॉलेज प्रोफेसर का नियुक्ति होता है. नेट परीक्षा का आयोजन नेशनल टेस्टिंग एजेंसी करता है. यह परीक्षा कंप्यूटर आधारित ऑनलाइन टेस्ट होता है. इस एग्जाम का आयोजन एनटीए वर्ष में दो बार करता है.सरकारी या प्राइवेट किसी भी कॉलेज में प्रोफ़ेसर के लिए नेट एग्जाम क्वालीफाई करना होता है.

NET Exam Kya Hota Hai? 

नेट राष्ट्रीय स्तर की पात्रता परीक्षा है. यह परीक्षा महाविद्यालय और विश्वविद्यालय में शिक्षक/प्रोफेसर बनने की पात्रता प्रदान करती है. इस एग्जाम आयोजन नेशनल टेस्टिंग एजेंसी (NTA) वर्ष में दो बार छह महीने के अंतराल में करता है. नेट एग्जाम ऑनलाइन कंप्यूटर आधारित टेस्ट (CBT) होता है. नेट एग्जाम का पूरा नाम यूजीसी नेट होता है. नेशनल एलिगिबिलिटी टेस्ट के द्वारा विश्वविद्यालय एवं महविद्यालय के शिक्षकों की नियुक्ति  होती है. सरकारी या प्राइवेट किसी भी कॉलेज में शिक्षक बनने के लिए नेशनल एलिजिबिलिटी टेस्ट उत्तीर्ण करना पड़ता है.

आज के समय में अधिकांश स्टूडेंट्स प्रोफेसर बनना चाहते हैं, लेकिन इतना आसान नहीं है. कॉलेज प्रोफेसर करियर में रूचि रखने वाले लाखों स्टूडेंट्स प्रतिवर्ष नेट एग्जाम के आवेदन करते हैं, जिनमें से एक हजार अभ्यर्थी ही एग्जाम में सफल हो पाते हैं.

NET ka Full Form Kya Hota Hai?

नेट का फुल फॉर्म National Eligibility Test होता है. हिंदी में इसे ‘राष्ट्रीय पात्रता परीक्षा’ कहते हैं.

योग्यता: NET Exam ke Liye Qualification 

  • उम्मीदवार किसी मान्यता प्राप्त यूनिवर्सिटी से ग्रेजुएशन किया हो.
  • और किसी मान्यता प्राप्त यूनिवर्सिटी से कम से कम 55% अंकों में पोस्ट ग्रेजुएशन उत्तीर्ण होना चाहिए.
  • नेट एग्जाम के लिए Post Graduation डिग्री अनिवार्य है.
  • पोस्ट ग्रेजुएशन के अंतिम वर्ष में अध्ययनरत छात्र भी नेट एग्जाम के योग्य है.
  • जो अभ्यर्थी मास्टर डिग्री की परीक्षा दिए है और रिजल्ट के इंतजार में हैं, वह उम्मीदवार भी नेट एग्जाम के अप्लाई कर सकते हैं.

NET Exam ke Liye Eligibility 

  • उम्मीदवार के पास मास्टर डिग्री होना चाहिए.
  • प्रोफेसर के लिए उम्र-सीमा निर्धारित नहीं होता है, जूनियर रिसर्च फ़ेलोशिप के लिए उम्र 30 वर्ष निर्धारित होता है.

नेट एग्जाम का फॉर्म कैसे भरें?

  • नेट एग्जाम में शामिल होने के लिए सबसे पहले आपको पोस्ट ग्रेजुएशन करना होगा.
  • पोस्ट ग्रेजुएशन की डिग्री प्राप्त करने के बाद जब नेट एग्जाम के लिए एप्लीकेशन फॉर्म निकलता है, तब अप्लाई करना होगा.
  • एनटीए समय-समय पर नेट एग्जाम के लिए notification जारी करता है.
  • जब नेट एग्जाम के लिए एप्लीकेशन फॉर्म निकलता है,
  • तब एनटीए के ऑफिसियल वेबसाइट पर जाकर net exam के लिए एप्लीकेशन फॉर्म भरना होगा.
  • एप्लीकेशन फॉर्म भरने के बाद एग्जाम फीस ऑनलाइन पेमेंट करने का आप्शन आता है.
  • वहां पर फीस पेमेंट करना होता है.

नेट एग्जाम का फीस कितना होता है? 

  • सामान्य वर्ग के उम्मीदवार के लिए 1000 रूपये फीस होता है.
  • General EWS/ OBC उम्मीदवार के लिए 500 रूपये फीस होता है.
  • एससी/एसटी/ पीडब्लूडी उम्मीदवार को 250 रूपये फीस देना होता है.

नेट एग्जाम पास करने के बाद क्या करें? 

  • नेट एग्जाम पास करने के बाद आप किसी प्राइवेट कॉलेज में प्रोफ़ेसर या लेक्चरर के लिए आवेदन कर सकते हैं.
  • या सरकारी कॉलेज प्रोफेसर भर्ती के लिए आवेदन कर सकते हैं.
  • आप अपना खुद का कोचिंग सेंटर खोलकर या किसी इंस्टिट्यूट में नेट एग्जाम की तैयारी ऑनलाइन या ऑफलाइन करवा सकते हैं.
  • या नेट एग्जाम उत्तीर्ण करने के बाद पीएचडी करके आगे की पढाई जारी रख सकते हैं.

नेट एग्जाम का पैटर्न क्या है?

नेट एग्जाम में दो पेपर होता है. प्रथम प्रश्न पत्र में General Aptitude और द्वितीय प्रश्न पत्र में कैंडिडेट द्वारा चयनित विषय होता है. दुसरे पेपर में कैंडिडेट को सब्जेक्ट चुनना पड़ता है. दुसरे पेपर के लिए कई सब्जेक्ट होता है, उनमें से किसी एक सब्जेक्ट का चयन करना होता है.

प्रथम प्रश्न पत्र में कुल 50 प्रश्न होता है और द्वितीय प्रश्न पत्र में कुल 100 प्रश्न होता है. दोनों पेपर के प्रत्येक प्रश्न के लिए 2 अंक निर्धारित होता है, कुल 300 अंकों का नेट एग्जाम होता है. पेपर I को हल करने के लिए 1 घंटे और पेपर II के लिए 2घंटे का समय निर्धारित होता है.

सभी प्रश्न वस्तुनिष्ठ होते है. इस एग्जाम में नेगेटिव मार्किंग नहीं होता है. इसलिए आप सभी प्रश्नों को हल करने का प्रयास करें.

राष्ट्रीय पात्रता परीक्षा हिंदी और अंग्रजी दोनों माध्यम में होता है. फॉर्म भरते समय हिंदी या अंग्रेजी माध्यम का चयन करना होता है. जिस माध्यम का चयन करेंगे, उसी माध्यम में एग्जाम देना होगा.

इसे भी पढ़ें: NEET Kya Hota Hai? NEET ke Liye Eligibility 

8 thoughts on “NET Exam Kya Hota Hai? UGC नेट एग्जाम पास करने के बाद क्या करें?”

Leave a Comment

error: Content is protected !!