संज्ञा किसे कहते हैं और संज्ञा के कितने भेद हैं?

आप सभी संज्ञा शब्द के बारे में अवश्य पढ़ें होंगे. जैसे- राम, सीता, दिल्ली, आगरा, ताजमहल, लाल किला, मेज, कुर्सी, दया, प्रेम, क्रोध आदि संज्ञा है. किसी वस्तु, स्थान, व्यक्ति, प्राणी, गुण, भाव के नाम संज्ञा कहलाते हैं. वस्तु, स्थान, व्यक्ति, प्राणी, गुण, भाव आदि के नाम को अलग-अलग संज्ञा के नाम से जाना जाता है. तो आज मैं आपसे इसी के बारे में बात करेंगे कि संज्ञा के भेद कौन-कौन से हैं? संज्ञा किसे कहते हैं?

संज्ञा किसे कहते हैं? 

किसी वस्तु, स्थान, व्यक्ति, प्राणी, गुण, भाव या क्रिया आदि के नाम को संज्ञा कहते हैं. किसी भी वस्तु, प्राणी, स्थान आदि का नाम संज्ञा है. जैसे, कुर्सी (वस्तु), दिल्ली (स्थान), राम (व्यक्ति), गाय (प्राणी), सुन्दरता (गुण), प्रेम (भाव), रोना (क्रिया).

संज्ञा के भेद कितने होते हैं? 

संज्ञा के पांच भेद होते हैं, व्यक्तिवाचक संज्ञा, जातिवाचक संज्ञा, भाववाचक संज्ञा, समूहवाचक संज्ञा और द्रव्यवाचक संज्ञा.

संज्ञा के भेद कौन-कौन से हैं? 

  1. व्यक्तिवाचक संज्ञा (Proper Noun)
  2. जातिवाचक संज्ञा (Common Noun)
  3. भाववाचक संज्ञा (Abstract Noun)
  4. समूहवाचक संज्ञा (Collective Noun)
  5. द्रव्यवाचक संज्ञा (Material Noun)

व्यक्तिवाचक संज्ञा किसे कहते हैं?

किसी विशेष व्यक्ति, वस्तु या स्थान आदि का बोध कराता हो, उसे व्यक्तिवाचक संज्ञा कहते हैं. विशेष व्यक्ति, वस्तु या स्थान के नाम व्यक्तिवाचक संज्ञा कहलाते हैं.

जैसे-महात्मा गाँधी, इंदिरा गाँधी, रानी लक्ष्मी बाई, पंडित जवाहरलाल नेहरु (व्यक्ति), लाल किला, ताजमहल, भारत, कुतुबमीनार, भगवदगीता, हिमालय (वस्तु), दिल्ली, मुंबई, कोलकाता, आगरा, अमेरिका (स्थान)

जातिवाचक संज्ञा किसे कहते हैं?

जो किसी विशेष जाति का बोध कराता हो, उसे जातिवाचक संज्ञा कहते हैं.

जैसे- पुस्तक, नदी, पहाड़, लड़का, लड़की, गाय, बकरी, पेड़, मेज, दरवाजा, खिड़की, पलंग आदि.

भाववाचक संज्ञा किसे कहते हैं?

जिन शब्दों से किसी प्राणी या वस्तु के गुण, भाव, दशा आदि का बोध होता हो, उन्हें भाववाचक संज्ञा कहते हैं.

जैसे- क्रोध, दया, धैर्य, साहस, वीरता, आनंद, सुन्दरता, ईमानदारी, बीमारी, बुढ़ापा, लम्बाई, उंचाई आदि.

समूहवाचक संज्ञा किसे कहते हैं? 

किसी वस्तु या प्राणियों के समूहों का बोध कराता हो, उसे समूहवाचक संज्ञा कहते हैं.

जैसे- परिवार, कक्षा, सेना, संघ, समुदाय, झुण्ड, गुच्छा, जुलुस, काफिला आदि.

द्रव्यवाचक संज्ञा किसे कहते हैं? 

जिन शब्दों से किसी द्रव्य या पदार्थ का बोध होता हो, उसे द्रव्यवाचक संज्ञा कहते हैं. जैसे- हवा, पानी, तेल, चाय, सोना, चांदी, लोहा, आटा, चावल, अन्न आदि.

इसे भी पढ़ें: मौखिक भाषा किसे कहते हैं? मौखिक भाषा की परिभाषा, महत्त्व 

Leave a Comment

error: Content is protected !!