लोकमान्य बाल गंगाधर तिलक का जीवन परिचय, निबंध, जीवनी

Lokmanya Bal Gangadhae Tilak ki Jivani

“स्वराज मेरा जन्मसिद्ध अधिकार है और मैं इसे लेकर ही रहूँगा।” लोकमान्य बाल गंगाधर तिलक जी का यह नारा स्वतंत्रता आंदोलन को एक लोक आंदोलन में बदलने में काफ़ी बड़ी भूमिका निभाई है। और आज हम लोकमान्य बालगंगाधर तिलक का जीवन परिचय (जीवनी) के माध्यम से जानेंगे कि भारतीय स्वतंत्रता संग्राम में इनका क्या महत्व …

Read more

error: Content is protected !!