प्रधानमंत्री फसल बीमा योजना क्या है? PMFBY Online Application Details 2022 List

आपमें से सभी लोग बीमा यानी insurance के बारे में तो जानते ही होंगे। हम कई सारे चीजों का बीमा कराते हैं, लेकिन क्या आपको पता है कि Pradhan Mantri Fasal Bima Yojana Kya Hai? यह किसानों के फसलों के बचाव के लिए बीमा योजना है।

आज के इस लेख से आपको प्रधानमंत्री फसल बीमा योजना के बारे में पूरी जानकारी तो मिलेगी ही, साथ ही अगर आप एक किसान हैं तो PMFBY Online Registration करने का तरीक़ा भी पता चल जाएगा। यदि आपने पहले ही Pradhan Mantri Fasal Bima Yojana Online Application किया है, तो PMFBY List में अपना नाम कैसे देखें, उसके बारे में भी यहाँ बात की जाएगी।

Pradhan Mantri Fasal Bima Yojana Kya Hai?

इसके नाम से आपको पता चल रहा है कि प्रधान मंत्री की ओर से यह किसानों के फसलों के लिए एक बीमा योजना है।

इससे किसान अपनी फसल का बीमा करा सकते हैं, जिससे किसी भी प्राकृतिक आपदा से फसल बर्बाद होने पर मुआवज़ा मिल सके।

आपमें से काफ़ी लोगों का सवाल होगा कि crop insurance क्यों ज़रूरी है? तो मुझे बताने की जरुरत नहीं है कि हमारे देश भारत में कृषि प्रकृति पर निर्भर करती है। विदेशों की तरह यहाँ के किसान सुरक्षित नहीं हैं।

कभी अतिवृष्टि, कभी सूखा, कभी टिड्डी दल, कभी सिंचाई के साधनों की कमी, कभी ख़राब बीज आदि के कारणों से किसान अपनी फसल बर्बाद होते देखता है। हर वर्ष हज़ारों किसान संकट के कारण आत्महत्या कर लेते हैं।

Pradhan Mantri Fasal Bima Yojana in Hindi

वैसे तो केंद्रीय सरकार राज्य सरकारों के साथ मिलकर बेहतर बीज, बेहतर सिंचाई के साधन आदि पर काम कर रही हैं, फिर भी भारतीय किसान अनिश्चय में जीता है।

कभी-कभी खडी फसल पाला पड़ने से या बेमौसम की बरसात होने से बर्बाद हो जाती है। इन प्राकृतिक आपदाओं के अलावा कभी-कभी बाज़ार में गिरते मूल्य के कारण किसान को वांछित लाभ नहीं मिल पाता है और उसे लागत से भी कम में अपनी उपज बेचनी पड़ती है।

ऐसी स्थिति में भारतीय किसान ने कभी भी ख़ुशहाली की जिंदगी नहीं देखी। कभी-कभी साहूकार क़र्ज़ की अदायगी के लिए खडी फसल पर क़ब्ज़ा कर लेते हैं।

ऐसा कोई दिन नहीं जाता जब हम समाचार-पत्रों में किसी न किसी किसान को कहीं न कहीं आत्महत्या की खबर न पढ़ लें। जब घर का मुखिया ही नहीं रहेगा तो उस परिवार का क्या होगा, कल्पना नहीं की जा सकती है।

PMFBY फसल बीमा योजना क्या है?

हम दावा करते हैं कि भारत गाँवों में बसता है। भारत की कुल आबादी का 75% ग्रामीण इलाक़ों में रहने के कारण किसानी ही करता है।

मनुष्यजनित और प्राकृतिक आपदा से बचाने के लिए अनेक वर्षों से ‘फसल बीमा योजना’ चालू है। परंतु अनेक कारणों से सभी किसान इसका लाभ नहीं ले पाते। वैसे भी एक अनुमान के अनुसार आज तक मात्र 60% किसान ही इस योजना से जुड़ पाए हैं और जो किसान इस योजना से जुड़े हैं उन्हें भी अपेक्षित लाभ नहीं मिल पाया है।

कभी तो प्रीमीयम दर बहुत ज़्यादा है, कभी नुक़सान की दावा राशि बहुत काम मिल पाती है। हम समाचार-पत्रों में पढ़ते हैं कि कभी-कभी तो किसान की मुआवज़ा राशि दस रुपए से भी काम होती है। इसका कारण है कि बीमा कम्पनियाँ स्थानीय आपदा का आकलन नहीं करतीं।

प्रायः ऐसा होता है कि पूरे प्रदेश या क्षेत्र में अतिवृष्टि न होकर केवल एक ज़िले में ज़्यादा बारिश के कारण उस स्थान के किसान को नुक़सान होता है। परंतु बीमा कम्पनियाँ ऐसी स्थिति को आपदा नहीं मानती क्योंकि आपदा के सही आँकड़ों का प्रमाणीकरण नहीं हो पाता है और बेचारा किसान प्रीमीयम भरने के बाद भी लाचार और बेसहारा हो जाता है।

ऐसी स्थिति में किसानों को अपना हक़ पाने के लिए अनेक प्रकार की कठिनाइयों का सामना करना पड़ता है। इसका परिणाम यह होता है कि किसान का बीमा योजना से विश्वास उठ जाता है। इस दृष्टि से ‘प्रधानमंत्री फसल बीमा योजना’ केंद्र सरकार ने शुरू की है।

Benefits: प्रधानमंत्री फसल बीमा योजना के लाभ

  • किसानों को बहुत काम प्रीमीयम देना होगा। किसान से मात्र 10% प्रीमीयम लिया जाएगा।
  • शेष 90% तक प्रीमीयम सरकार भरेगी।
  • खाद्यान्न, दलहन, तिलहन फसलों के लिए एक मौसम दर होगी। पहले ज़िलेवार और फ़सलवार अलग-अलग दर निर्धारित थी।
  • ख़रीफ़ के लिए सिर्फ 2% और रबी के लिए सिर्फ 1.5% निर्धारित की गई है।
  • बीमा पर कोई कैपिंग नहीं होगी और इस कारण दावा राशि में कमी या कटौती भी नहीं की जा सकेगी।
  • पहली बार जल भराव को स्थानीय जोखिम में शामिल किया गया है और इस कारण भी बीमा राशि का हक़ होगा। पहले ऐसा नहीं था।
  • पहली बार देश भर में फसल कटाई के बाद चक्रवात और बेमौसम बारिश को जोखिम में शामिल किया गया है।
  • सही आकलन और शीघ्र भुगतान के लिए मोबाइल और सेटेलाइट टेक्नॉलजी के व्यापक उपयोग पर ज़ोर दिया गया है।

प्रधानमंत्री फसल बीमा योजना से व्यापक स्तर पर देश भर के दूरदराज़ के इलाक़ों के किसान भी लाभान्वित होंगे और किसानों को आत्महत्या के लिए बाध्य नहीं होना होगा। यह योजना किसानों के व्यापक हित में है।

इसे भी पढ़ें: Diwali Kyo Manaya Jata Hai?

Pradhan Mantri Fasal Bima Yojana Online Apply Kaise Kare?

अगर आप इस सरकारी योजना का लाभ उठाना चाहते हैं तो इसके official website में जाकर आवेदन करना होगा। और PMFBY Online Application के लिए सबसे पहले आपको www.pmfby.gov.in पर जाना है।

Pradhan Mantri Fasal Bima Yojana Online PMFBY

Farmer Corner में आपको Pradhan Mantri Fasal Bima Yojana Online Registration के ऑप्शन पर क्लिक करने के बाद अपना मोबाइल नम्बर डालकर लॉगिन करना है।

उसके बाद जो PMFBY Online Form खुलेगा उसमें अपने डिटेल्स जैसे नाम, पता, फसल, बैंक खाता, आधार कार्ड, ये सारी जानकारी अच्छे-से डालने के बाद submit कर दें। और इस तरह आप काफ़ी आसानी से प्रधानमंत्री फसल बीमा योजना में आवेदन कर सकते हैं।

PMFBY 2021 List Online Kaise Dekhe?

जब आप Pradhan Mantri Fasal Bima Yojana Online Registration करेंगे, तो आपको एक receipt number मिलेगा। और इसी नम्बर से आप PMFBY List में अपना नाम देख सकते हैं कि आपका आवेदन सफल हुआ आ नहीं, और आपको इसका लाभ कब और कैसे मिलेगा?

और लिस्ट में अपना नाम देखने के लिए भी आपको www.pmfby.gov.in वेबसाइट पर जाना है। और Application Status पर क्लिक करने के बाद अपना receipt number डालना है, और फिर आपको पूरी जानकारी मिल जाएगी।

Summary: प्रधानमंत्री फसल बीमा योजना क्या है?

तो यह रहा Pradhan Mantri Fasal Bima Yojana के बारे में पूरी जानकारी। मुझे आशा है कि आपको अब अच्छे-से पता चल गया होगा कि PMFBY Online Application कैसे करें और लिस्ट में अपना नाम कैसे चेक करें?

अगर आप एक किसान हैं, तो इस योजना में आवेदन करना आपके लिए बेहद ज़रूरी है। इससे आपके फसल अगर किसी कारणवश नष्ट हो जाते हैं, तो आपको मुआवज़ा राशि मिल सकती है। इसके बारे में यदि आपके मन में कोई सवाल हो, तो नीचे comment करके बता सकते हैं। धन्यवाद!

3 thoughts on “प्रधानमंत्री फसल बीमा योजना क्या है? PMFBY Online Application Details 2022 List”

Leave a Comment

error: Content is protected !!