MBBS Kya Hota Hai? MBBS ke Liye Qualification: सरकारी डॉक्टर कैसे बने?

मेडिकल क्षेत्र में करियर बनाने के लिए एमबीबीएस कोर्स करना होता है. आज के समय में अधिकतर स्टूडेंट्स मेडिकल क्षेत्र में जाना चाहते हैं, लेकिन उन्हें मालूम नहीं होता है कि एमबीबीएस क्या होता है? एमबीबीएस के लिए योग्यता क्या होना चाहिए? तो आज हम इसी के बारे में बात करेंगे कि MBBS ke Liye Qualification क्या होना चाहिए?

एमबीबीएस मेडिकल के क्षेत्र में बैचलर डिग्री कोर्स है. साइंस स्ट्रीम में बारहवीं पास करने के बाद इस बैचलर कोर्स में नामांकन मिलता है. बैचलर कोर्स में नामांकन एंट्रेंस एग्जाम के द्वारा मिलता है. इस कोर्स में एडमिशन के लिए नीट एग्जाम उत्तीर्ण करना होता है. कुछ प्राइवेट कॉलेज में बिना प्रवेश-परीक्षा के दाखिला मिलता है.

MBBS Kya Hota Hai? 

एमबीबीएस बैचलर डिग्री कोर्स है. यह डाक्टरल डिग्री कोर्स है, इस कोर्स को करने के बाद ही आप डॉक्टर बन सकते हैं. एमबीबीएस का फुल फॉर्म Bachelor of Medicine and Bachelor of Surgery होता है. हिंदी में इसे ‘चिकित्सा स्नातक और शल्य चिकित्सा स्नातक’ कहते हैं. इस बैचलर डिग्री कोर्स को करने के बाद एमबीबीएस डॉक्टर का का प्रमाण पत्र मिलता है.

जिस प्रकार शिक्षक बनने के लिए B.Ed की डिग्री प्राप्त करनी पड़ती है. ठीक उसी प्रकार डॉक्टर बनने के लिए MBBS Degree प्राप्त करना करना होता है. बिना एमबीबीएस कोर्स किये, डॉक्टर नहीं बन सकते हैं.

MBBS ke Liye Qualification 

  • उम्मीदवार 10th अच्छे अंकों में पास होना चाहिए.
  • और किसी मान्यता प्राप्त बोर्ड से Science Facility में बारहवीं कक्षा कम से कम 50% अंकों में पास होना चाहिए.
  • 12वीं कक्षा में भौतिकी, रसायन और जीवविज्ञान विषय होना चाहिए.
  •  साइंस सब्जेक्ट में कम से कम 50%अंक होना चाहिए.

एमबीबीएस के लिए योग्यता क्या होना चाहिए?

  • उम्मीदवार की न्यूनतम उम्र 17 वर्ष तथा अधिकतम उम्र 25 वर्ष होना चाहिए.
  • और अभ्यर्थी साइंस स्ट्रीम में बारहवीं कक्षा पास होना चाहिए.

MBBS Kaise Kare?

  • एमबीबीएस करने के लिए सबसे पहले आपको साइंस स्ट्रीम में रसायन, भौतिकी, जीवविज्ञान विषयों में 12वीं कक्षा अच्छे अंकों में उत्तीर्ण करना होगा.
  • बारहवीं पास करने के बाद एमबीबीएस कोर्स में नामांकन के लिए NEET Exam के लिए अप्लाई करना होगा.
  • और नीट एग्जाम अच्छे रैंक में उत्तीर्ण करना होगा.
  • मेडिकल में प्रवेश के लिए नीट संस्थान प्रति वर्ष नीट प्रवेश- परीक्षा का आयोजन करता है.
  • नीट परीक्षा अच्छे रैंक में उत्तीर्ण करने वाले अभ्यर्थियों को सरकारी मेडिकल कॉलेज में एडमिशन मिलता है.
  • इस तरह से आप सरकारी या निजी कॉलेज से एमबीबीएस डिग्री कोर्स कर सकते हैं.

MBBS Course Kitne Saal ka Hota Hai?

  • एमबीबीएस कोर्स 4-5 वर्ष का होता है.
  • प्रत्येक 6 महीने में एक सेमेस्टर की परीक्षा होती है.
  • मेडिकल कॉलेज में 4 वर्ष पढ़ाई करने के बाद कम से कम 1 साल किसी मेडिकल कॉलेज में इंटर्नशिप होता है.
  • कुल मिलाकर एमबीबीएस कोर्स 5 वर्ष का होता है.

इंटर्नशिप बहुत ही आवश्यक होता है. इंटर्नशिप पूरा करने के बाद अनुभवी डॉक्टर का प्रमाण मिलता है. इसके बाद आप किसी भी अस्पताल में डॉक्टर के तौर काम कर सकते हैं.

MBBS ki Fees Kitni Hoti Hai?

सरकारी और गैर-सरकारी कॉलेजों में एमबीबीएस बैचलर कोर्स की फीस अलग-अलग होता है. सरकारी कॉलेज की अपेक्षा निजी कॉलेज में फीस बहुत अधिक होता है. समय-समय पर निजी कॉलेज फीस में बदलाव करते रहता है.

लेकिन अब निजी कॉलेजों की मनमानी फीस पर राज्य-सरकार पाबन्दी लगा दी है. अब निजी कॉलेजों की फीस सरकार निश्चित करती है.

  • प्राइवेट कॉलेज की फीस 5 से  6 लाख रूपये प्रति वर्ष होता है. कुछ कॉलेजों में इससे भी अधिक फीस होता है.
  • कुछ विश्वविद्यालयों में प्रति वर्ष 12 से 20 लाख रुपये तक फीस होता है.
  • वही सरकारी कॉलेज में एमबीबीएस की फीस इसकी अपेक्षा बहुत कम होती है.
  • सरकारी मेडिकल कॉलेजों में सबसे कम फीस एम्स (AIIMS) की है.
  • एम्स में लगभग 1 हजार रुपये प्रति वर्ष फीस है.
  • अन्य सरकारी मेडिकल कॉलेजों की फीस 4 से 5 हजार रुएये प्रति वर्ष होता है.

एमबीबीएस के लिए कौन-सा सब्जेक्ट लें

एमबीबीएस बैचलर कोर्स के लिए 12वीं कक्षा में पीसीबी सब्जेक्ट Physics, Chemistry और Biology का चयन करना होगा.

डॉक्टर कैसे बनते हैं? 

  • डॉक्टर बनने के लिए सबसे पहले आपको 12वीं कक्षा पास करना होगा.
  • बारहवीं विज्ञान संकाय में कम से कम 50% अंकों में उत्तीर्ण करना होगा.
  • उसके बाद नीट (NEET) परीक्षा के लिए आवेदन करना होगा.
  • और नीट-एग्जाम अच्छे अंकों में पास करना होगा.
  • नीट परीक्षा पास करने के बाद MBBS कोर्स में एडमिशन लेना होगा.
  • जिस विषय में आप रूचि रखते हैं, उस विषय में एमबीबीएस कोर्स करें.
  • डॉक्टर बहुत प्रकार के होते हैं, जैसे कार्डियोलॉजिस्ट, स्त्रीरोग विशेषज्ञ, शिशुरोग विशेषज्ञ आदि.
  • 5 वर्ष का एमबीबीएस बैचलर डिग्री की पढ़ाई पूरी करने के बाद एमबीबीएस डॉक्टर का प्रमाण पत्र मिलता है.
  • एमबीबीएस डिग्री प्राप्त करने बाद सरकारी डॉक्टर के लिए आवेदन करना होगा.
  • समय-समय पर सरकार सरकारी अस्पतालों में डॉक्टर की भर्ती के लिए सूचना जारी करती है.
  • या आप किसी निजी अस्पताल में डॉक्टर का जॉब प्राप्त कर सकते हैं.
  • आप अपना खुद का क्लिनिक खोलकर भी मरीजों का इलाज कर सकते हैं.

Top 5 Medical Colleges in India 

देश में बहुत प्रसिद्ध और नामी मेडिकल कॉलेज है. लगभग सभी कॉलेज में प्रवेश परीक्षा के द्वारा एडमिशन मिलता है.

  • आल इंडिया इंस्टिट्यूट ऑफ़ मेडिकल साइंस, नयी दिल्ली
  • मौलाना आजाद मेडिकल कॉलेज, नयी दिल्ली
  • इंस्टिट्यूट ऑफ़ मेडिकल साइंसेज, बनारस हिंदी यूनिवर्सिटी, वाराणसी
  • किंग जॉर्ज मेडिकल यूनिवर्सिटी, लखनऊ
  • गवर्नमेंट मेडिकल कॉलेज एंड हॉस्पिटल, चंडीगढ़

इसे भी पढ़ें: NDA ke Liye Qualification 

10 thoughts on “MBBS Kya Hota Hai? MBBS ke Liye Qualification: सरकारी डॉक्टर कैसे बने?”

Leave a Comment

error: Content is protected !!