सावित्री बाई फुले किशोरी समृद्धि योजना क्या है? लाभ, उद्देश्य एवं आवेदन प्रक्रिया

बाल विवाह एवं बालिका शिक्षा को बढ़ावा देने के उद्देश्य से झारखण्ड सरकार ने वर्ष 2019 में मुख्यमंत्री सुकन्या योजना की शुरूआती की थी. वर्त्तमान में इस योजना का नाम बदलकर, ‘सावित्री बाई फुले किशोरी समृद्धि योजना ‘किया गया है. इस योजना के तहत कक्षा आठवीं से बारहवीं की बालिकाओं को आर्थिक सहायता राशि प्रदान की जाती है. तो आज आप जानेंगे कि सावित्री बाई फुले समृद्धि योजना के बारे में. सावित्री बाई फुलेकिशोरी समृद्धि योजना क्या है?

सावित्री बाई फुले किशोरी समृद्धि योजना क्या है?

झारखण्ड सरकार ने वर्ष 2019 में मुख्यमंत्री सुकन्या योजना की शुरूआती की थी. वर्त्तामन में 24 अगस्त, 2022 को मुख्यमंत्री सुकन्या योजना का नाम बदल कर ‘सावित्री बाई फुले किशोरी समृद्धि योजना‘ किया गया है. इस योजना के तहत कक्षा 8वीं और 9वीं की बालिकाओं को 2500  रूपये और कक्षा 10वीं, 11वीं व 12वीं की बालिकाओं को 5000 रूपये देने का प्रावधान किया गया है. वहीं 18 से 19 वर्ष की आयु होने पर एकमुश्त 20,000 रूपये दिए जायेंगे.

सावित्री बाई फुले किशोरी समृद्धि योजना के लाभ

सावित्री बाई फुले किशोरी समृद्धि योजना के तहत आठवीं से बारहवीं तक की बालिकाओं को भिन्न-भिन्न किस्तों में आर्थिक सहायता राशि प्रदान की जाएगी. जैसे-

  • कक्षा 8वीं और 9वीं में 2500 रूपये (प्रत्येक कक्षा में 25 सौ रूपये, कुल 5 हजार रूपये)
  • 10वीं, 11वीं व 12वीं की कक्षा में 5000 रूपये (प्रत्येक कक्षा में 5 हजार रूपये, कुल 15 हजार)
  • 18 से 19 वर्ष की आयु पूरी होने पर एकमुश्त 20,000 रूपये मिलेंगे.
  • इस योजना के तहत कुल 40 हजार रूपये की राशि भुगतान किये जायेंगे.

सावित्री बाई फुले समृद्धि योजना का उद्देश्य

  • इस योजना का मुख्य उद्देश्य बाल विवाह को रोकना और बालिका शिक्षा को बढ़ावा देना है.
  • बेटी बचाओ बेटी पढ़ाओ योजना को सफल बनाना है.
  • सावित्री बाई फुले बालिका समृद्धि योजना (मुख्यमंत्री सुकन्या समृद्धि योजना) का उद्देश्य बालिकाओं की रक्षा व सुरक्षा करना है.
  • इस योजना का एक मुख्य उद्देश्य कन्या भ्रूण हत्या को रोकना भी है.

सावित्री बाई फुले किशोरी समृद्धि योजना के लिए आवेदन कैसे करें?

इस योजना के लाभार्थी अपने निकटतम आंगनवाडी केंद्र में जाकर आंगनवाडी सेविका (टीचर) से आवेदन पत्र प्राप्त करें और उस आवेदन फॉर्म को भरकर आंगनवाडी सेविका के पास जमा करें. आंगनवाडी सेविका आपका आवेदन पत्र और उससे सम्बंधित सभी दस्तावेज प्रखंड कार्यालय में जमा करेंगी. इस योजना का लाभ लेने के लिए आपको अपने क्षेत्र की आंगनवाडी केंद्र की सेविका से संपर्क करना होगा.

सावित्री बाई फुले किशोरी समृद्धि योजना के लिए आवश्यक दस्तावेज

  • झारखण्ड राज्य का आवासीय प्रमाणपत्र
  • आय प्रमाणपत्र
  • बालिका का जन्म प्रमाणपत्र
  • आधार कार्ड
  • बैंक खाता
  • अध्ययनरत कक्षा का प्रमाण-पत्र

इसे भी पढ़ें- छोटा परिवार सुखी परिवार पर निबंध

Leave a Comment

error: Content is protected !!